Payment Gateways क्या है- कैसे काम करता है

Payment Gateways क्या है?

नमस्कार दोस्तो आज हम आपको Payment Gateway के बारे मे बतायंगे की ये कैसे काम करता है और इसका क्या उपयोग है Payment Gateway एक ऐसा Platform है जो हमारे द्वारा किसी E- commerce site से खरीदे हुये समान के पैसे को Bank से Settlement करके उस E- commerce site को अपना Percentage cut करके  उसको उसके समान का पैसा अदा करता है

Payment gateway

Payment Gateway का सीधा सम्बन्ध E-commerce website से होता है इसका ग्राहक से कोई सम्बन्ध नही होता है

यह भी पढ़ें- Yono SBI क्या है? ऐसे खोलें Online SBI Bank Account.

Payment Gateway किस प्रकार work करता है?

Payment Gateway
ऐसे कम करता है Payment Gateways
  1. Payment Gateway मुख्यता Transitions सम्बन्धी सूचनाओं को बैंक तक Transfer करता है
  2. अब सबसे पहले customer अपनी card details देता है और card details को E- commerce website Payment Gateway को स्थान्तरित कर देता है।
  3. Payment Gateway मे भेजी हुई सभी सूचनाएं payment security द्वारा संरक्षित रहती हैं।
  4. Payment Gateway customers की सभी card details को merchant website के बैंक को Transfer करता है।
  5. अब merchant website का bank, customer card की details को उस कार्ड सम्बन्धी बैंक से वेरिफिकेशन करता है।
  6. Verification complete और सत्य होने पर customer के कार्ड से पैसा लेकर,Merchant बैंक पैसे को Payment Gateway को स्थान्तरित कर देता है और Payment Gateway अपना चार्ज लेकर बचा पैसा मर्चेंट वेबसाइट को स्थान्तरित कर देता है।
    Paytm Users एक बार ज़रूर पढ़ेंPayTm ATM/DEBIT Card के लिए  ऐसे  करे Apply.
  • Payment Gateway कितने प्रकार के होते हैं?

  1. Hosted Payment Gatewayइसमे Hosted Payment Gateway कस्टमर के check out page से customer को बंद कर देता है।फिर जब customer Merchant Website से Payment करता है तो कस्टमर को Payment Service Provider (PSP) पर redirect कर दिया जाता है, यहाँ customer अपने card के details देता है और ग्राहक के द्वारा भुगतान के बाद Process पूरी करने के लिए उसको वापस वैबसाइट पर भेज दिया जाता है। PayPal Standard, Payza इसका प्रमुख उदाहरण है|
  2. Pro/Self Hosted Payment Gatewaysइस Gateways पर Merchant site को ग्राहक से भुगतान विवरण पूछने के जरूरत पड़ती है, विवरण पूछने के बाद ग्राहक के Data को Payment Gateway पर भेज दिया जाता है, इस प्रकार के Gateways को Self Hosted Payment Gateways कहते है| Paypal website payments pro इसका प्रमुख उदाहरण है|
    इसे भी देखे-  PhonePe क्या है? कैसे account बनाएँ  और पाये  ढेर  Cashback 
  3. API/Non Hosted Payment Gateways- इस Gateway मे merchant site अपने check out process पर खुद हे कंट्रोल रखता है और customers को इस Checkout Page से निर्देशित नहीं करते है, इस Gateways मे customers को सीधे merchant site पर अपने Cards (Debit/Credit) के जानकारी देनी रहती है और customers के API का उपयोग करके या कुछ HTTP प्रश्नो का उपयोग करने के अनुमति देता है | इस प्रकार के Gateways को API/Non Hosted Payment Gateways कहते है| Stripe इसका प्रमुख उदाहरण है |
  4. Local Bank Integration Gatewaysइस Gateway मे customers को सीधे Payment Gateway पर Redirect कर दिया जाता है और customers वह पर अपनी Cards (Debit/Credit) के जानकारी देते है और Payment के बाद customers को merchant site पर Redirect कर दिया जाता है इस प्रकार के Gateways को Local Bank Integration Gateways कहते है| Pay seal , Bank Audi इसके प्रमुख उदाहरण है |
  5. Direct Payments Gateways- इस प्रकार के Gateways मे तत्काल Payment नहीं हो पता है इस प्रकार के Gateways मे पहले Profile बना कर customers के Cards (Debit/Credit) से Payments कर लेते है और Merchant site को कोई भी Information नहीं देते है इसलिए इसमे Merchant Site को यह चेक करते रहना होता है की Merchant site को उसका भुगतान हुआ या नहीं | इस प्रकार के Gateways को Direct Payments Gateways कहते है| Payflow Pro इसका प्रमुख उदाहरण है|
  6. Platform Based Payment Gateways- इस प्रकार के Gateways मे Merchant Site को किसी भी Payment Gateways की सदस्यता लेनी होती है और फिर उस Payment Gateways पर Merchant Site सीधे अपना व्यापार कर सकते है और customers को Checkout बटन से Redirect किया जाता है| इस प्रकार के Gateways को Platform Based Payment Gateways कहते है| Blue Snap इसका प्रमुख उदाहरण है|
  • Payment Gateways की मुख्य companies

  1. PayUmoney Payment Gateway
  2. Instamojo Payment Gateway
  3. PayPal Payment Gateway
  4. CC Avenue Payment Gateway
  5. PayTm Payment Gateway

जाने यहाँ – PayPal क्या है? कैसे खोलें PayPal Account?

  • Payment Gateway का चयन कैसे करे-

Payment Gateway का चयन करते समय ये जरूर ध्यान मे रखना चाहिए की आपका बिज़नस किस प्रकार का है फिर दूसरी सबसे ध्यान देने वाली बात की जिस Company का Gateway हम ले रहे है वह कितना Percentage charge ले रही है और जिस Gateway Company का हम चयन कर रहे है उसमे कौन कौन से महत्वपूर्ण विकल्प मौजूद है और उस Company का customer support कैसा है|

किसी भी Payment Gateway का चयन करते समय ये सभी बाते ध्यान मे रखना चाहिए |

यह भी देखें- BHIM UPI क्या है? BHIM  UPI से money transfer करें चुटकियों मे। 

उम्मीद है की इस post से आपको Payment Gateway से संबन्धित लगभग सभी जानकारी प्राप्त हो गयी होंगी अगर आपको Payment Gateway के बारे मे और जानकारी चाहिए तो आप नीचे comment box मे अपने सवाल साझा करना बिलकुल न भूले|

||धन्यवाद||

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *