AEPS क्या है? Full Form, Registration, Benefits Details In Hindi

AEPS एक ऐसा Transaction System है जो Banks द्वारा लोगों के लिए जिनके पास Smartphone नही है या Digital Transaction से संतुष्ट नही हैं, उनके लिए बनाया गया है। यह केवल Transaction System है जिसमे आपको Cash मिल जाता है। AEPS System में User Authentication के लिए Finger Print या Iris Image का प्रयोग किया जाता है। इस System में एक Oprator और Micro-ATM की आवश्यकता होती है। जो किसी Bank Account Holder को Limited Banking सेवाएं प्रदान करता है।

AEPS System का Use ऐसी जगहों पर किया जाता है। जहाँ Banks बहुत दूर होती हैं। और लोग SmartPhone और Digital Banking नही Use करना जानते हैं।

AEPS क्या है

ASEP क्या है?

Aadhaar Enabled Payment System में आपको mobile Number और smartphone की आवश्यकता नही होती है. इसमें केवल आपके Aadhaar से Authentication होता है और आपका Transaction successful हो जाता है. जैसे की UPI और IMPS में आपके Mobile Number और Smartphone की आवश्यकता होती है. इसके अलावा आपको इन्टरनेट कनेक्शन की भी आवश्यकता होती है जबकि AEPS banking में आपको Phone और Internet की कोई आवश्यकता नही होती है. इसके साथ ही आपको कोई पिन नंबर भी याद करना नही पड़ता है.

AEPS के फायदे-

  1. इससे आप Account Balance Check, पैसे जमा करना, पैसे निकालना, Mini Statement जैसी सुविधाओं का लाभ ले सकते हैं.
  2. इसमें केवल Micro-ATM की आवश्यकता होती है जिससे इसे किसी भी जगह आसानी से ले जाया जा सकता है.
  3. इसमें आप किसी भी bank में पैसे ट्रान्सफर कर सकते हैं.
  4. पैसे निकालने के लिए किसी भी प्रकार के डेबिट कार्ड और सिग्नेचर और पिन की आवश्यकता नही होती है.
  5. इसमें आपके Finger-Print की आवश्यकता होती है जिससे ये काफी Secure और Safe है.
  6. Banking Correspondent किसी भी दूर जगह Micro POS के साथ आसानी से जा सकता है और banking services provide करा सकता है.
  7. बड़े दुकानदार भी पैसे लेने के लिए AEPS का प्रयोग कर सकते हैं.

AEPS के द्वारा Transaction

AEPS से bank आपको limited Services provide करवाती हैं इसमें आप केवल 5 type के Transactions कर सकते हैं,

  1. Balance Check
  2. Cash Deposit
  3. Cash Withdrawal
  4. Mini Statment
  5. Aadhaar to Aadhaar Fund Transfer

The Aadhaar to Aadhaar fund transfer के लिए Merchant Payment प्रणाली प्रयोग की जाती है. इसके लिए कोई दुकानदार Dedicated Application प्रयोग कर सकता है. Fund Transfer के अलावा आप सभी प्रकार के Transactions किसी भी bank के Bank Correspondent के द्वारा कर सकते हैं. Fund Transfer के लिए आपको अपने bank के Banking Correspondent के द्वारा Transaction करना होगा.

AEPS में आवश्यक चीजें

Aadhaar Enabled Payment System (AEPS) में आपको केवल 3 चीजों की आवश्यकता होती है, और आप बड़ी आसानी से बिना पेपर और कार्ड के पैसे निकाल सकते हैं.

  1. Aadhaar Number
  2. Bank IIN or Name
  3. Fingerprint

AEPS में आपको केवल अपना मोबाइल नंबर और आधार नंबर याद करना होता है और आप आसानी से पैसे निकाल सकते हैं

IIN क्या होता है?

IIN का Full Form Issuer Identification Number होता है. जिन Banks ने AEPS में भाग लिया है उनको NPCI ने 6 Numbers का एक कोड दिया है. AEPS में आपको bank के लिए उसका IIN भरना होता है.

किसी भी Fund transfer करने के लिये IIN number और आधार नंबर जरुरी होता है, आप एक आधार नंबर को कई Bank Accounts से Link कर सकते हैं इसलिए IIN number से ही Bank का पता चलता है. जैसे Axis Bank का IIN Number 607153 है.

AEPS में Authentication के लिए आधार क्यों जरुरी होता है?

जब आपका आधार कार्ड बनता है तो आपके फिंगरप्रिंट और आँख की आईरिस का इमेज लिया जाता है. इसी biomatric डाटा से आपके आधार नंबर का पता चल जाता है. चूँकि एक व्यक्ति के ही आईरिस और फिंगरप्रिंट किसी भी व्यक्ति से मिलते नही हैं. इसीलिए आधार कार्ड का प्रयोग AEPS में यूजर ऑथेंटिकेशन के लिए प्रयोग किया जाता है. आपका आधार नंबर आपके फिंगरप्रिंट से वेरीफाई हो जाता है और आप Fund Transfer कर पाते हैं.

Aadhaar Enabled Payment System कैसे काम करता है?

AEPS में आपके आधार कार्ड से ही पैसों का लेन देन किया जा सकता है। लेकिन ये तभी संभव है जब आपके Bank Account से Aadhar Card link होता है। आपके Fingerprint के द्वारा UIDAI Authenticate करता है, कि ये आपका ही आधार नंबर है। इस transcation में UIDAI, Bank को User की सभी जानकारी शेयर करती है। जिससे Bank Transaction को आगे Process किया जाता है।

Aadhaar Enabled Payment System (AEPS) में Transaction के लिए 6 संस्थाओं को काम करना पड़ता है।

  1. आपको Bank Customer के रूप में
  2. Banking Agent को – AEPS Service Provider के रूप में
  3. Banking Correspondents की Bank – जिस बैंक से Banking Correspondents जुड़ा होता है
  4. आपकी Bank– जिस Bank में आपका Account होता है
  5. NPCI – इसके द्वारा ही सभी Transactions को Successful किया जाता है।
  6. UIDAI – User Authentication यानि आपके पहचान के लिए

AEPS का शुल्क

यह UPI की अपेक्षा बहुत महंगा Transaction है। इसमें आपको लगभग 1 Transaction का 15₹ शुल्क देना पड़ जाता है। जबकि UPI Transaction free है। AEPS Transaction में आपको 3 संस्थाओं को शुल्क देना पड़ सकता है।

  1. UIDAI को User Authentication करना पड़ता है। इसलिए UIDAI कुछ शुल्क ले सकता है। लेकिन UIDAI ने अभी कोई ऐसा Charge नही लगाया है ये Totally Free है।
  2. NPCI 10 पैसे User Authentication और 25 पैसे Settlement का charge लगाती है।
  3. Bank आपके Transaction Value का 1% Charge करती है अगर आपका Account किसी अन्य Bank में है। किसी अन्य Bank में Transaction के लिए आपको Minimum 5₹ तथा Maximum 15₹ का charge देना पड़ सकता है।

केंद्र सरकार ने तय किया है कि 31 दिसम्बर 2019 तक की लागत केंद्र सरकार ही सहन करेगी। क्योंकि केंद्र सरकार अभी debit card, UPI, AEPS, MDR Charge की सब्सिडी दे रही है। इसलिए अभी AEPS बिना किसी चार्ज के लिए उपलब्ध है।

  • AEPS Transaction की सीमाएं : इसमें आप केवल 50,000₹ प्रति दिन एक Account से लेन देन कर सकते हैं।
  • Settlement Time: AEPS Transaction में आपको Settlement time 23:00 घंटे का मिलता है।
  • AEPS Full Form: Aadhaar Enabled Payment System

इसे भी पढ़ें-

अगर आपको AEPS क्या है? Full Form, Registration, Benefits Details In Hindi पोस्ट अच्छी लगी है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो आप Comment Box के माध्यम से हम को बता सकते हैं।

मैं शिवम् यशश्वी आपका हिंदी ब्लॉग एडवाइस में स्वागत करता हूँ, मैंने ये ब्लॉग आप लोगों को ब्लॉग्गिंग से सम्बंधित जानकारी मुहैया कराने के लिए बनाया है. मुझे आशा है की आप लोग इस ब्लॉग को सपोर्ट करेंगे.

हैप्पी ब्लॉग्गिंग…

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *